Fastlive News - Dhanbad News, Jharkhand News Samachar, Hindi News
Latest news
जूहू स्थित एक होटल पुलिस ने 8 माॅडल्स और तीन लोगों को किया गिरफ्तार डोनाल्ड ट्रंप ने आखिरकार दो टूक शब्दों में जो बाइडन को दे ही दी जीत की बधाई प्रियंका जुनेजा ने कई अड़चनों को दूर कर मिसेज इंडिया 2020 का खिताब जीती किसानों की ट्रैक्टर रैली हो या नहीं, दिल्ली पुलिस तय करे: सुप्रीम कोर्ट बंद होने के कगार पर लंदन का मेटल एक्सचेंज हाॅल ‘‘ द रिंग’’ किसान नेता सह यूथ फोर्स के संयोजक दीप नारायण ने राम मंदिर निर्माण के लिए दान दिए बाघमारा के जल सहियाओं ने विधायक ढुलू महतो के आवास के समक्ष किया प्रदर्शन ऐसे इंटरनेशनल बुक आॅफ रिकार्ड में दर्ज कराई मूंगफली बेचने वाले के बेटे ने अपना नाम सरकार और किसान संगठनों के बीच अगले दौर में होगी वार्ता पाकिस्तान के निर्वाचन आयोग ने सांसदों और विधायकों की सदस्यता की निलंबित

एसीबी टीम ने गोविंदपुर थाना के एसआई को 50 हजार रिश्वत लेते पकड़ा

0

शिकायतकर्ता हाईकोर्ट में भी करेगा शिकायत

धनबाद:  एसीबी धनबाद की टीम ने गुरुवार गोविंदपुर थाना में पदस्थापित मुनेश तिवारी नामक एसआई को 50 हजार रुपये रिश्वत लेते को रंगे हाथ गिरफ्तार किया। बाद में एसीबी की टीम ने उक्त एसआई को पूछताछ के लिए जिला मुख्यालय ले आयी। घटना के संबंध में शिकायतकर्ता रमेश पांडे ने बताया कि डीएसपी के नाम पर दो लाख रुपये की रिश्वत मांगी जा रही थी। साथ ही 50 हजार रुपये एसआई मुनेश तिवारी भी मांग रहे थे। जिसकी सूचना उन्होंने एसीबी टीम को दी और एसीबी टीम ने मामले में एक रणनीति के तहत एसआई को रिश्वत लेते रंगे हाथ धर दबोचा। शिकायतकर्ता का कहना है कि पहले उनके नाम पर कोल डिपो चलाया जाता था। जिसे वह काफी दिन पहले ही बंद कर दिया था। इसके बावजूद गोविंदपुर थाना में पदस्थापित एसआई मुनेश तिवारी उनसे लगातार अपने नाम से 50 हजार रुपये और डीएसपी के नाम पर दो लाख रुपये देने का दबाव बना रहे थे। जिसकी सूचना उन्होंने एसीबी की टीम को दीं। इसके बाद सूचना के आधार पर एसीबी की टीम ने जाल बिछाकर आगे की कार्रवाई करते हुए एसआई मुनेश तिवारी को 50 हजार रूपये रिश्वत के साथ धर दबोचा। वहीं शिकायत कर्ता रमेश पांडेय ने कहा कि कोयला डीपो के नाम पर बिना वजह मुझे फसाया जा रहा है। उन्होनंे कहा कि इस मामले को लेकर हाईकोर्ट में भी शिकायत करेंगे।

Share.

About Author

Leave A Reply

Translate »
error: Content is protected !!