झारखण्ड ग्रामीण विकास ट्रास्ट ने फुलआरी टांड़ में की बैठक

0
fastlive news

बाघमारा : बाल विवाह , बाल तसकरी , बाल मजदूरी , बाल यौन शोषण के खिलाफ़ झारखण्ड ग्रामीण विकास ट्रास्ट द्वारा चलाए जा रहे अभियान को सफल बनाने को लेकर फुलारी टॉड ऑंगनबाड़ी केन्द्र में सेविका बुधनी देवी की अध्यक्षता एक बैठक की गई। बैठक के दौरान मौजूद महिला पुरुषों ने झारखण्ड ग्रामीण विकास ट्रास्ट द्वारा संचालित इस कार्यक्रम को जन जन तक पहुंचाकर उसे जागरुक करने एवं इस अभियान को अमल कराने की शपथ ली। फिल्ड कॉंर्डिनेटर भागीरथ सिंह ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि बाल विवाह रोकने के लिए लोगो के बीच जन जागरण अभियान गाँव गाँव में चलाया जा रहा है जिससे ग्रामीणों को इस विषय के बारे में जागरूक किया जा सके। आगे उन्होने कहा इस कार्य को रोकने के लिए हमें शपथ लेनी चाहिए । मुखिया प्रतिनिधि दिलीप विश्‍वकर्मा ने कहा कि किशोरीयो को बाल विवाह के बारे में विस्तृत जानकारी रखना चाहिए कि लड़कियो को विवाह के लिए कम से कम उम्र 18 वर्ष एवं लड़का का उम्र 21 वर्ष होनी चाहिए । इससे कम उम्र में विवाह कानुन अपराध हैं। इस अभियान को सफल बनाने के लिए अन्त में एक साथ बाल विवाह न करने, कराने एवं रोकने के लिए शपथ दिलाया गया ।
बैठक में सेविका बुधनी देवी , मनोज कुमार दास, लक्ष्मी साव, उमा देवी, रीमा कुमारी, प्रिया देवी, चन्दवा देवी, अंजली कुमारी, सुमन कुमारी, नेहा कुमारी, रूबी कुमारी, मीना कुमारी, संतरा देवी, झुनकी देवी, प्रिया कुमारी के अलावे दर्जनो ग्रामीण महिला, पूरुष मौजूद थे।

Share.

About Author

Leave A Reply

Translate »
error: Content is protected !!