Latest news
खरखरी में मासस द्वारा एके राय का 86 वां जन्मदिवस मनाया गया बहियारडीह बस्ती में तेली सामज द्वारा दिवंगत छोटू महतो की पुण्यतिथि मनाई गई मुराईडीह में लायंस क्लब बाघमारा ने किया भूमि पूजन महुदा में सर्वधर्म प्रार्थना सभा में कोरोना के चपेट में आए मृतकों को दी गई श्रद्धांजलि चीन की विवादित BRI परियोजना के खिलाफ B3W योजना में भारत ने भी दिलचस्पी दिखाई राम जन्मभूमि को बदनाम करने के लिए कोई मौका नहीं छोड़ता विपक्ष: दिनेश शर्मा संस्कार ज्ञानपीठ विद्यालय में वर्चुअल समर कैम्प के दौरान फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता का आयोजन संस्कार ज्ञानपीठ विद्यालय में वर्चुअल समर कैम्प का आयोजन उप्र सिंधी अकादमी की पहल, अब बुजुर्ग भी गायेंगे गाना WHO चीफ की चीन को हिदायत, कोरोना के ऑरिजिन को लेकर चल रही जांच में सहयोग करे
Advertisement

ब्लॉक 2 क्षेत्र : प्रदूषण के खिलाफ ग्रामीणों ने 12 घन्टे तक अंबे का कार्य किया ठप

0

रिपोर्ट : काशीनाथ

बाघमारा : प्रदूषण की मार झेल रहें जयरामडीह, खोखिबिघा, पिंगड़िया, लुटिपहाड़ी, तेलोटांड़ के ग्रामीणों ने मंगलवार को ब्लॉक दो क्षेत्र अंतर्गत अंबे आउटसोर्सिंग कंपनी का कार्य बाधित कर दिया। ग्रामीणों ने बेनीडीह में उक्त आउटसोर्सिंग कंपनी कार्यालय के गेट के समीप प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी करने लगे। कंपनी के सुरक्षा कर्मियों ने किसी घटना की अंदेशा जताते हुए कंपनी के सभी गाड़ियों को कार्यालय परिसर के अंदर खड़ा कर गेट को अंदर से बंद कर दिया। ग्रामीणों का कहना था कि अंबे कंपनी कोयला उत्खनन के दौरान काफी प्रदूषण फैलती हैं। हवा में उड़कर कोयले का डस्ट हमलोगों के घरों का काफी गंदा कर देता हैं। हवा, पानी दूषित हो गया हैं जिससे लोग बीमार भी हो रहें हैं। ग्रामीणों की प्रदर्शन की सूचना पर जिप सदस्या रेखा देवी, मुखिया नरेश गुप्ता, मुखिया जीतन भुईया, मुखिया प्रतिनिधि शैलेन्द्र सिंह भी ग्रामीणों के समर्थन में प्रदर्शन स्थल पहुँच गए। प्रदर्शन की जानकारी मिलने पर बाघमारा थाना प्रभारी सूबेदार कुमार यादव भी पुलिस बल के साथ अंबे कार्यालय पहुचें। प्रदर्शन कर रहे आक्रोशित ग्रामीणों को लॉकडाउन में प्रदर्शन करने से मना किया। साथी ही उक्त स्थल पर धारा 144 लागू होने की जानकारी ग्रामीणों को दी।

बाउजूद ग्रामीण प्रदर्शन करते रहें। थाना प्रभारी ने मोबाईल से अंबे के पदाधिकारियों से बातचीत की। जिसके बाद थाना प्रभारी ने ग्रामीणों से कहा इस मुद्दे पर जल्द ही अंबे के पदाधिकारी ग्रामीणों से वार्ता करेंगे। फिर ग्रामीणों ने प्रदर्शन बंद कर कार्यालय परिसर हट कुछ दूरी में बैठ गए। ग्रामीणों ने कहा जबतक अंबे के पदाधिकारी से प्रदूषण की मुद्दें पर वार्ता नहीं होती। हमलोग यही बैठें रहेंगे साथ ही कंपनी का कार्य भी बंद रहेगा। शाम सात बजे अंबे कंपनी के पदाधिकारी राणा चौधरी के साथ ग्रामीणों की वार्ता हुई। जिसमें 4 दिनों में अंदर प्रदूषण की मात्रा काफी कम करने की बात राणा ने ग्रामीणों से कही। फिर ग्रामीणों ने प्रदर्शन स्थगित कर दिया। वार्ता के बाद कंपनी का कार्य आरम्भ हो गया। वार्ता में कंपनी पदाधिकारी राणा चौधरी, पुलिस इंस्पेक्टर, बाघमारा थाना प्रभारी एवं ग्रामीण उपस्थित थे।

नोट : प्रदर्शन के दौरान कई जनप्रतिनिधी मुखिया ने लॉकडाउन के नियमों का पालन नहीं करते हुए मास्क नहीं पहना और न ही सोशल डिस्टेंसिग का पालन किया।

 

Share.

About Author

Leave A Reply

Translate »
error: Content is protected !!