धनबाद में करमा परब विधि विधान एवं हर्षोल्लास के साथ संपन्न

0
fastlive news

बाघमारा : धनबाद कोलांचल के शहरी एवं ग्रामीण इलाकों में भाई-बहन के प्रेम और अटूट विश्वास का पर्व करमा काफी धूमधाम के साथ सोमवार को देर शाम तक मनाया गया। धनबाद जिला के बाघमारा, महुदा, राजगंज, कतरास, सिजुआ,लोयाबाद, बरोरा, नवागढ़ सहित कई ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के नई शादी सुधा युवती और युवतियां आज पूरे दिन भर अपने आप को आकर्षक श्रृंगार से सजा कर नए वस्त्र धारण कर जावा डाली को गीत एवं नृत्य कर जगाया। दिन भर उपवास के बाद बाद कुंवारी युवतियां एवं नई शादीशुदा युवतियां भादो शुक्ल पक्ष के एकादशी के दिन अपने भाई के उज्जवल भविष्य एवं दीर्घायु के लिए देर शाम भक्ति भाव के साथ विधि विधान पूर्वक करम देवता का पुजा की। आस्था और विश्वास के इस सैकड़ो वर्ष पूर्व से चली आ रही इस पुजा को गांव के बीचों बीच एवं चौराहा में कर्म डाली को गडकर जावा डाली को रख विधि विधान से पूजा अर्चना कर अपने भाई के दीर्घायु एवं घर परिवार के सुख मय जीवन की कामना की। वैसे तो आज से 10 वर्ष पूर्व और आज के इस झारखंड के इस संस्कृति के पर्व में संस्कृतिक एवं रंगारंग कार्यक्रम में थोड़ी परिवर्तन देखने को मिला है। जिला के बाघमारा कतराज , महुदा, सीजुआ, राजगंज सहित कई क्षेत्रों के ग्रामीण चौक चौराहा में साउंड बॉक्स, डीजे, के साथ वाद्य यंत्र के साथ नाचते गाते देखा गया। इस त्यौहार को करने में कई तरह की सजावट भी की गई थी । इस तरह पहले और अभी के इस त्यौहार को मनाने में थोड़ी अंतर तो देखने को मिली । लेकिन पहले से ज्यादा आज के दिन इस त्यौहार को लोग तन मन धन से मनाते देखा गया।

Share.

About Author

Leave A Reply

Translate »
error: Content is protected !!