सम्पूर्ण जनजागृति ऑर्गेनाइजेशन द्वारा कई कार्यक्रम संपन्न

0
fastlive news

बाघमारा : सामाजिक संस्था सम्पूर्ण जनजागृति ऑर्गेनाइजेशन डुमरा द्वारा बिनोद बिहारी महतो सह राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर जयंती सह करम महोत्सव डुमरा स्थित बीसीसीएल के सामुदायिक भवन में शनिवार को मनाया गया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थित जिला परिषद अध्यक्ष शारदा सिंह ने बिनोद बिहारी महतो सह राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर श्रधांजलि दी। इसके बाद दीप प्रज्वलित कर करम महोत्सव का शुभारंभ किया। संस्था द्वारा संचालित सम्पूर्ण शिक्षा केन्द्र के छात्राओं ने गणेश वंदना कर महोत्सव की शुरुआत की। संस्था के पदाधिकारियों ने मुख्य अतिथियों को अंगवस्त्र प्रदान कर सम्मानित किया। मुख्य अतिथि शारदा सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि झारखंड निर्माण में बिनोद बाबू का बहुत बड़ा योगदान है। उन्होंने पढ़ने के साथ अपने हक अधिकार प्राप्त करने का संदेश देकर लोगों को जागरूक किया। उन्होनें कहा कि राष्ट्र के निर्माण में राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर का महत्वपूर्ण योगदान है। उनकी योगदान को कभी भुला नहीं जा सकता।

करम पर्व को लेकर उन्होनें कहा कि करमा पर्व झारखंडी भाई बहन के प्रेम का प्रतीक है। बहन भाई की दीर्घायु व सुखी जीवन के लिए करमा पर्व करती है। वही भाई भी बहन की सुरक्षा का वचन देकर अपने प्रेम को दर्शाता है। वही विशिष्ट अतिथि शिक्षाविद भीमलाल महतो ने भी अपने संबोधन में बिनोद बिहारी महतो, राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर जीवनी एवं करमा पर्व की विस्तृत व्यख्या की। कार्यक्रम में आठ विधालय के छात्र छात्राओं ने करम नृत, कविता व गीत प्रस्तुत किया।

संस्था द्वारा विधालय के शिक्षकों को मेमोंटो एवं कार्यक्रम में भाग लेने वाले सभी छात्रों छात्रों को मेडल देकर सम्मानित किया। इसके अलावा बिनोद बिहारी महतो विधालय निचितपुर में संस्था द्वारा पूर्व में आयोजित शैक्षणिक प्रतियोगिता में सफल छात्र छात्राओं को भी मेडल प्रदान कर पुरष्कृत किया । महोत्सव में संस्कार ज्ञानपीठ पीयूष बिहार, सरस्वती विद्या मंदिर खास जयरामडीह, नेहरू बालिका उच्च विद्यालय डुमरा, नेता जी सुभाष विद्या मंदिर डुमरा, बिनोद बिहारी महतो उच्च विधालय निचितपुर, विद्या मंदिर न्यू कॉलोनी मुराइडीह, ऑक्सफ़ोर्ड पब्लिक स्कुल खोदोबेली एवं सम्पूर्ण शिक्षा केन्द्र के छात्र छात्राओं ने भाग लिया। कार्यक्रम को सफल बनाने में संस्था के अध्यक्ष प्रेम कुमार, सचिव रोहित कुमार , कोषाध्यक्ष नितेश कुमार, संरक्षक मृत्युंजय कुमार, सिंटू साव, रमेश कुमार महतो, विक्की साव, सुबोध कुमार, रमेश रजवार, कृष्णा कुमार, आकाश, नीलम बरनवाल, सरस्वती देवी मालती देवी, गीता देवी, सकुंतला देवी, बेबी वर्णवाल आदि का सराहनीय प्रयास रहा।

Share.

About Author

Leave A Reply

Translate »
error: Content is protected !!