निरसा में दफनाएं गए शव की पहचान डुमरा निवासी युवक के रूप में हुई, युवक की पत्नी ने हत्या की आशंका जताई

0
fastlive news

बाघमारा । निरसा के तेतुलिया डाउन में बंद पेट्रोल पंप के सामने बीते दिनों बुधवार को झाड़ियों में मिला अज्ञात शव की पहचान डुमरा निवासी स्व बंधु महतो के पुत्र 28 वर्षीय महेश महतो के रूप में हुई है। मृतक महेश की पत्नी प्रमिला देवी ने निरसा पुलिस को बताया कि गोबिंदपुर स्तिथ एक फैक्टरी में काम करने के लिए 3 जून को दो युवक के साथ गोबिंदपुर गए थे। जिन दो युवकों के साथ महेश गोविंदपुर फैक्टरी गया था। उनमें डुमरा का एक युवक और जमुआटांड का एक युवक शामिल है। इन युवकों ने महेश को गोविदपुर स्थित एक फैक्टरी 14 हजार रुपये वेतन दिलाने का झांसा देकर काम के लिए ले गए थे। जिसके कुछ दिन बाद महेश के घरवालों ने महेश से संपर्क करना चाहा लेकिन संपर्क नहीं हो सका तो घरवालों ने उन दो युवकों से महेश के संबंध में पूछताछ किया। उन युवकों ने घरवालों को बताया कि महेश कुछ दिनों से गायब है। उसके बाद महेश के घरवालों ने महेश को ढूंढने के लिए रविवार को फैक्टरी व निरसा थाना पहुचें। जहां निरसा पुलिस ने एक अज्ञात युवक का फोटो दिखते हुए बताया कि इस अज्ञात युवक शव तेतुलिया डाउन बंद पेट्रोल पंप के समीप झाड़ियों के पास से मिला था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और शव को दो दिन रखने के बाद शव की पहचान नहीं हुई तो शव को दफना दिया गया। वही पुलिस द्वारा दिखाएं गए अज्ञात व्यक्ति का फोटो देखकर महेश के घरवालों ने पुलिस को बताया कि यह फोटो महेश का है। जिसके बाद मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में निरसा पुलिस ने महेश के दफनाए गए शव को निकालकर महेश के घरवालों को सौप दिया। महेश का शव देख महेश की पत्नी प्रमिला देवी व घरवाले रोते बिखलाने लगे। मृतक महेश की पत्नी ने पति महेश की आशंका जताते हुए निरसा थाना में उक्त दोनों युवकों के नाम जिन्होंने महेश को काम दिलाने के नाम पर गोविंदपुर स्थित फैक्टरी लाया था और फैक्टरी प्रबंधन पर महेश की हत्या करने का आरोप लगाते हुए लिखित शिकायत देकर पुलिस से इंसाफ की मांग की। उसके बाद महेश के शव को गोबिंदपुर स्थित फैक्टरी के गेट के पास रखकर महेश के घरवालों एवं ग्रामीणों ने मुआवजा की मांग की। रविवार देर रात तक शव के साथ ग्रामीण मृतक के आश्रित को मुआवजा दिलाने की मांग पर अड़े हुए थे। समाचार लिखे जाने तक वहां की स्थिती जस की तस बनी हुई थी। UPDATE रविवार रात फैक्टरी प्रबंधन के साथ मृतक के परिजनों की वार्ता हुई। जिसमें प्रबंधन ने मृतक की पत्नी को छह लाख रुपये मुआवजा व पेंशन एवं बच्चों की पढ़ाई लिखाई का खर्च वहन करने पर सहमति जताई। जिसके बाद शव को लेकर परिजन डुमरा वापस लौटें।

आगे की खबर के लिए इस न्यूज पोस्ट को अपडेट किया जाएगा, थोड़ी देर बाद इस पेज व न्यूज पोस्ट को रिफ्रेश करें…।

मृतक महेश महतो का फाइल फोटो

रविवार देर रात परिजनों ने मुराईडीह खोदो नदी के तट पर महेश के शव को विधि विधान से अंतिम संस्कार कर दिया।

Share.

About Author

Leave A Reply

Translate »
error: Content is protected !!