Latest news
बड़ा पाण्डेयडीह में मॉर्डन पारा मेडिकल ट्रेनिंग सेंटर का शुभारंभ बागड़ा पंचायत में झारखंडी भाषा खतियान संघर्ष समिति का विस्तार किया गया सशिवि मंदिर बाघमारा के पूर्व छात्र ने सांझा किए अपने अनुभव, सकारात्मक सोच रखने की दी सलाह झारखंड के सीएम चंपई सोरेन ने लिया एक बड़ा फैसला INDI गठबंधन और कांग्रेस पर अमित शाह ने हमला बोला नवजोत सिंह सिद्धू किसी भी समय भाजपा में हो सकते है शामिल भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक पीएम मोदी ने विद्यासागर जी महाराज के निधन पर दुःख जताया पुर्तगाल के प्रधानमंत्री एंटोनियो ने दिया इस्तीफा ट्रेलर गाड़ी निचितपुर रेल फाटक में फसी, लोहे को बेरियर को भी तोड़ा

धनबाद गया रेलखंड पर लातेहार के 6 मजदूर की मौत

0
fastlive news

बाघमारा : धनबाद गया रेलखंड के झारखोर के गेट के समीप पोल के गाड़े जाने के दौरान विद्युत तार के चपेट में आने से रेलवे के 6 ठेका कर्मी की मौत कार्यस्थल पर ही हो गई। यह घटना झारखोर के गेट संख्या सात के समीप डाउन ट्रैक पर घटी है। इस घटना के दौरान मौके पर पास में ही मौजूद एक युवती भी विद्युत की चपेट में आ गईं । जिससे उसका एक पैर को काफी नुकसान पहुंचा। घटना के संबंध में कहा जा रहा है कि सभी मजदूर लातेहार से काम करने आए थे। जो रेलवे के ठेकेदार द्वारा उन मजदूरों को काम पर वहां लगाया गया था। कार्य के दौरान पोल का करंट प्रवाहित विद्युत तार से संपर्क हो गया। जिससे कार्य कर रहे हो मजदूर उक्त प्रवाहित विद्युत के चपेट में आ गए। जिससे घटना स्थल पर ही 6 मजदूर की मौत हो गई। इसके अलावा जो लोग घटना स्थल से कुछ दूरी पर थे वे बाल बाल बच गए। घटना की सूचना पाकर स्थानीय रेल अधिकारी तथा आसपास के लोग मौके पर पहुंचे।
इस घटना की सूचना पाकर रेल के बचाव दल तथा अधिकारियों की टीम मौके पर पहुंचकर अप डाउन ट्रैक को निरीक्षण किया गया । वही तार से सटे खंभे को हटाया गया। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और मृत ठेका कर्मियों के शव को पोस्टमार्टम के लिए धनबाद भेज दिया। घटना के बाद रेलवे के अधिकारियों में काफी हड़कंप मचा हुआ है।

सुरक्षा को लेकर घटना के बाद अप और डाउन दोनों ही ट्रैक पर परिचालनघ पूरी तरह से बंद कर दिया गया था। वहीं इस हृदयविदारक घटना की सूचना धनबाद डीआरएम को दिया गया। सूचना पाकर डीआरएम कार्य स्थल पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली। वहीं रेलवे अधिकारी ने कहा कि इस घटना को लेकर ठीकेदार व रेलवे की लापरवाही का गहन जांच पड़ताल किया जा रहा है। आगे कहा कि रेलवे कर्मचारियों द्वारा युद्ध स्तर पर कार्य किया गया । वहीं अप ट्रैक पर गाड़ियों का परिचालन 3 घंटे के बाद सुचारू रूप से चालू कर दिया गया। डाउन ट्रैक पर हाईटेंशन तार सहित अन्य कार्यों को किया जा रहा है ।

Share.

About Author

Leave A Reply

Translate »
error: Content is protected !!