Advertisement

उप्र सिंधी अकादमी की पहल, अब बुजुर्ग भी गायेंगे गाना

0

मथुरा। सिंधी भाषा के प्रचार-प्रसार तथा सिंधी भाषा सिखने की दिलचस्पी पैदा करने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश सरकार के सिंधी अकादमी द्वारा ऑनलाइन सिंधी गायन चटाभेटी इनामी प्रतियोगिता शुरू की गई है। जिसमें बच्चों के साथ ही 60 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्ग भी हिस्सा लेंगे।

प्रतियोगिता के प्रचार प्रसार के साथ ही प्रतिभागियों को प्रेरित करने की जिम्मेदारी मथुरा के सिंधी जागरूक मंच के संस्थापक किशोर इसरानी को दी गई है। जबकि इसके संयोजक लखनऊ के शिक्षाविद सुधामचंद चंदवानी है।

पिछले डेढ़ दशक से सिंधी बोली और संस्कृति हेतु जागरूकता फैला रहे किशोर इसरानी ने बताया कि उत्तर प्रदेश सिंधी अकादमी के उपाध्यक्ष नानकचंद लखमानी जी तथा निदेशक के पी द्विवेदी के प्रयास से अकादमी के अध्यक्ष एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी की संतुष्टि पर ऑनलाइन सिंधी गायन चटाभेटी इनामी प्रतियोगिता शुरू की गई है, इसमें हर आयु वर्ग के प्रतिभागी भाग ले सकते है।

उन्होंने बताया कि सिंधी बोली और भाषा को बढ़ावा देने वाली इस प्रतियोगिता की चार श्रेणियों है। बाल गायन 10 वर्ष तक के बालक-बालिकाओं के लिए, युवा गायन 10 से 20 वर्ष तक के युवक-युवतियों के लिए, व्यस्क गायन 20 से 60 वर्ष के पुरूष-महिलाओं के लिए तथा वरिष्ठ गायन 60 वर्ष से अधिक बुजुर्ग पुरूष-महिलाओं के लिए सिंधी चटाभेटी प्रतियोगिता होनी है। इसमें जितने वाले को पांच सौ रूपये से तीन हजार रूपये तक का नगद इनाम दिया जायेगा।

भाग लेने वाले प्रतिभागी को सिंधी भाषा में गीत, भजन या लोकगीत गाकर अपनी वीडियो बनाकर सिंधी अकादमी की ईमेल पर भेजनी होगी, इसके लिए किशोर इसरानी से 8218900881 पर सम्पर्क करके या सिंधी जागरूक मंच के व्हाट्सएप नम्बर 9084660123 पर मेसेज भेजकर जानकारी प्राप्त कर सकते है।

लाड़ी लोहाणा सिंधी पंचायत के प्रदेश महामंत्री रामचंद्र खत्री एवं जिलाध्यक्ष जीवतराम चंदानी तथा सिंधी जनरल पंचायत के अध्यक्ष नारायण दास लखवानी तथा सिंधी वेलफेयर फाउंडेशन की अध्यक्ष गीता नाथानी एवं महासचिव अनिता चावला ने सिंधी परिवारों से गायन प्रतियोगिता में भागीदारी के लिए अंतिम तारीख 20 जून से पहले वीडियो बनाकर भेजने की अपील की है।

Share.

About Author

Leave A Reply

Translate »
error: Content is protected !!