सशिवि मंदिर बाघमारा के पूर्व छात्र ने सांझा किए अपने अनुभव, सकारात्मक सोच रखने की दी सलाह

0
fastlive news

बाघमारा । सरस्वती शिशु विद्या मंदिर बाघमारा में शुक्रवार को पूर्व छात्र व आचार्य और वर्तमान में रेलवे में पदस्थापित वरिष्ठ अनुवाद अधिकारी उत्तम रवानी को विधालय के छात्र छात्राओं ने अभिनंदन तिलक लगाकर एवं पेड़ भेंट कर स्वागत किया। उत्तम रवानी ने छात्र छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि विधालय में संस्कार, आचरण व शीलता जैसे आवश्यक मानवीय गुणों का विकास होता है। आज जो भी हम हैं, वह विधालय से मिले शिक्षा के कारण ही हैं। संघर्ष से हमारे व्यक्तिव का निर्माण होता है जो सफलता की ओर ले जाता है। पढ़ाई के दबाव से दूर रहकर हमेशा मुस्कुराने एवं सकारात्मक सोच रखने को कहा। इस दौरान उन्होंने अपनी जिंदगी के उस दौर को याद किया जब वे विद्यालय के छात्र थे और विद्यालय की प्रयोगशाला, पुस्तकालय, कक्षा व खेल मैदान का अवलोकन कर बीते दिनों को याद करके भावुक हो गए। उन्होंने विधालय के आचार्य एवं पूर्व विद्यार्थियों के विचारों व सुझावों को अपने जीवन में उतारने एवं पूर्व छात्रों के जीवन से प्रेरणा लेकर अच्छी पढाई करके अपने जीवन को उज्जवल बनाते हुए राष्ट्र के विकास में अपना सहयोग प्रदान करने की सलाह दी। मौके पर विधालय के आचार्य व छात्र छात्राएं मौजूद थे।

Share.

About Author

Leave A Reply

Translate »
error: Content is protected !!